पुस्तक -समीक्षा/Book-Review

इस श्रेणी में मेरी प्रकाशित या अप्रकाशित मुख्य पुस्तक-समीक्षाओं का संकलन है।स्‍वयं के अलावा मित्रों द्वारा प्रेषित समीक्षाएँ भी हैं। फिलहाल यहॉं उपलब्‍ध समीक्षाऍं इस तरह हैं, आप क्‍िलक कर सकते हैं –



इकत्तीस छिपकलियों का भय – कवि गोपाल सिंह की दुर्लभ पुस्‍तक की समीक्षा – डॉ रामकुमार सिंह

‘रोशनी की कोपलें’ – हाथों से छूते हुए. : डॉ अनूप वशिष्‍ठ के गजल-संग्रह पर डॉ रामकुमार सिंह की समीक्षा

”नहीं किसी को बहुत अधिक हो /नहीं किसी को कम हो” : दिनकर की ‘कुरूक्षेत्र’ – पर रामबरन सरस्‍वतीपुत्र

भूख है तो सब्र कर, रोटी नही तो क्या हुआ” : दुष्‍यंत कुमार की ‘साये में धूप’ पर डॉ रामकुमार सिंह

‘किसी को तो शिव बनना होगा’ : डॉ विनय राजाराम की किताब पर डॉ. शेषकुमारी सिंह

‘सर्जनात्मक अध्येता का समीक्ष्य से एकात्म होना’ : सविता मिश्र की पुस्‍तक पर डॉ रामकुमार सिंह का लेख

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s